fbpx

अगर आप यह सोचते हैं कि कॉन्डम लगाने से सेक्स लाइफ पूरी तरह सुरक्षित हो जाती है और हर चिंता दूर हो जाती है तो कई बार आप ग़लत भी हो सकते हैं। हालांकि अगर सही तरीके से इसका इस्तेमाल किया जाए तो यह प्रभावी तरीके से काम कर सकता है। अगर आपको लगता है कि कॉन्डम एक ऐसी चीज है जिसके बारे में लोग पहले से ही काफी कुछ जानते हैं तो यह आर्टिकल पढ़िए। इसे पढ़कर आपको आश्चर्य होगा कि कॉन्डम से जुड़ी ये छोटी-छोटी बातें उसके प्रभाव पर कितना अंतर ला सकती हैं भले ही आपका लिंग, रिलेशनशिप स्टेटस या लैंगिक झुकाव कुछ भी हो। 

मेल कॉन्डम इस्तेमाल करने का सही तरीका :

पुरुष कॉन्डम या मेल कॉन्डम इस्तेमाल करने का आसान तरीका है- खरीदना, रैपर फाड़कर निकालना, लगाना, इस्तेमाल के बाद फिर हटाना और अंत में कूड़ेदान में डाल देना। लेकिन जैसा कि हमने कहा इसके बारे में बारीकी से हर किसी को जानने की ज़रूरत है। तो आइये कॉन्डम लगाने का सही तरीका जानते हैं, यदि अभी तक आप ग़लत तरीका अपना रहे हैं तो आप इसे बदल सकते हैं : 

  1. कॉन्डम का इस्तेमाल करने से पहले एक्सपायरी डेट देख लें साथ ही यह भी चेक कर लें कि कॉन्डम में कोई खामी तो नहीं है।
  2. रैपर को अपने हाथों से फाड़ें। चाहे कितनी भी जल्दबाजी हो, रैपर पर कैंची या दांत लगाने से बचें नहीं तो कॉन्डम में छेद हो सकता है और सेक्स के दौरान फ्लूइड इससे बाहर निकल सकता है।
  3. कॉन्डम को लिंग के सिरे पर रखें और यह ध्यान रखें कि इसकी रिम बाहर की तरफ होनी चाहिए।
  4. जब तक कॉन्डम लिंग के पिछले हिस्से तक नहीं पहुंच जाता है तब तक इसे पीछे की तरफ़ रोल करते रहें।
  5. अगर आपका खतना नहीं हुआ है तो परेशानी से बचने के लिए फोर स्किन को पीछे खींचें।
  6. अगर आप और आपके पार्टनर ल्यूब्रिकेंट का प्रयोग करते हैं तो कॉन्डम की टिप पर इसकी कुछ बूंदे डालें।
  7. शुरु से लेकर अंत तक सेक्स के दौरान कॉन्डम लगाए रखें, चाहे वह ओरल या एनल सेक्स हो या फिर वजाइनल।
  8. स्खलित होने के बाद लिंग का इरेक्शन खत्म होने से पहले ही इसे बाहर निकालें। ऐसा न करने से कॉन्डम ढीला हो जाता है और योनि के अंदर सीमेन गिरने का जोखिम बढ़ सकता है और फिर कॉन्डम लगाना  बेमतलब हो जाता है।
  9. इसकी टिप पकड़ें और कॉन्डम को आराम से निकालें।
  10. कॉन्डम के बीच में गांठ बांध दें ताकि सीमेन बाहर ना गिरे, फिर इसे टॉयलेट पेपर में लपेटकर कूड़ेदान में फेंक दें। फ्लश न करें। कॉन्डम नालियों को जाम कर सकता है।

फीमेल कॉन्डम इस्तेमाल करने का सही तरीका

मेल कॉन्डम की अपेक्षा फीमेल कॉन्डम अभी नया है इसलिए इसके इस्तेमाल को लेकर लोगों के बीच काफी ग़लतफहमियां हैं। बहरहाल, फीमेल कॉन्डम के कई फायदों के कारण इसकी लोकप्रियता बढ़ी है। महिलाओं के लिए सुरक्षित सेक्स का यह एक ऐसा विकल्प है जिसे योनि में लगाने के लिए उन्हें गायनेकोलॉजिस्ट के पास नहीं जाना पड़ता है और उत्तेजना के उन पूरे पलों में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

आइये जानते हैं यौन सुरक्षा बढ़ाने और सेक्स को मज़ेदार बनाने के लिए फीमेल कॉन्डम का इस्तेमाल कैसे करें:

  1. कॉन्डम का इस्तेमाल करने से पहले उसकी एक्सपायरी डेट देख लें।
  2. कॉन्डम को रैपर से सावधानीपूर्वक निकालें और इस पर कैंची, दांत,नाखून या कोई अन्य नुकीली चीज लगाने से बचें।
  3. योनि में कॉन्डम लगाने के लिए आरामदायक पोजीशन चुनें : जैसे कि एक पैर पर खड़े होकर और दूसरे पैर को किसी ऊंची सतह पर रखकर, बिस्तर पर लेटकर या फर्श पर बैठकर। इसके अलावा आपको जिस पोजीशन में इसे लगाने में सहूलियत हो वैसे लगाएं।
  4. अब, कॉन्डम के बंद सिरे को दबाएं और इसे अपनी योनि के अंदर डालें। अपनी उंगली से इसे आप योनि के जितना अंदर तक जा सकता है उतना अंदर डालें। लेकिन यह ध्यान रखें कि योनि में कॉन्डम डालते समय यह मुड़े नहीं। इस प्रक्रिया को और मज़ेदार बनाने के लिए आप योनि में कॉन्डम लगाने के लिए अपने पार्टनर की मदद ले सकती हैं।
  5. कॉन्डम में लगी बड़ी रिंग को बाहर ही लटकने दें। इसे कम से कम एक इंच योनि के बाहर रखें।.
  6. सेक्स के दौरान आपको और आपके पार्टनर को अपनी उंगली से यह चेक कर लेना चाहिए कि रिंग का निचला हिस्सा योनि में सही तरह लगा है या नहीं, अन्यथा सेक्स करते समय इससे कोई सुरक्षा नहीं मिलेगी।
  7. सेक्स के बाद योनि के बाहर लटके रिंग को पकड़कर मोड़ें और सील बनाएं, फिर योनि से कॉन्डम को बाहर खींच लें।
  8. कॉन्डम में गांठ बांधे और इसे लपेटकर डस्टबिन में डाल दें। इसे फ्लश न करें।
  9. एनल सेक्स के दौरान भी फीमेल कॉन्डम का इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन रेक्टल कैविटी में यह कितना सटीक काम करता है, इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता।
  10. यदि आप हेट्रोसेक्सुअल रिलेशनशिप में हैं तो यह ध्यान रखें आप या आपके पार्टनर में से किसी एक को ही कॉन्डम का इस्तेमाल करना चाहिए। मेल और फीमेल कॉन्डम का एक साथ उपयोग करने से रगड़ बढ़ सकता है जिससे कॉन्डम फटने की संभावना बनी रहती है।

सुरक्षित रहें और कॉन्डम का इस्तेमाल करके सेक्स को मज़ेदार बनाएं!

healthguru
Author

Write A Comment