fbpx

जैसा कि आप में से अधिकांश लोग जानते हैं कि भारत में प्रजनन दर यानी फर्टिलिटी रेट हाई है, इसलिए परिवार नियोजन या फैमिली प्लानिंग इकाई को सरकार द्वारा बहुत अधिक सहायता दी जाती है.स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय सरकारी मंत्रालय ( MOHFW ) है जो भारत में दी जा रही परिवार नियोजन सेवाओं को देखता है.


यह एक प्रतीक है जो परिवार नियोजन क्लिनिक के लिए उपयोग किया जाता है. यह एक उल्टा लाल त्रिकोण है .यह सभी सरकारी डिस्पेंसरिज और अस्पतालों में प्रदर्शित किया जाता है जिससे शादीशुदा जोड़े इसे स्पष्ट रूप से देख सकते हैं और बिना किसी हिचक या संदेह के इन क्लीनिकों में जा सकते हैं.

सरकार द्वारा कई प्रकार की परिवार नियोजन सेवाएं प्रदान की जाती हैं. परिवार नियोजन चिकित्सक से शादीशुदा जोड़े मिल सकते हैं और अपने लिए सबसे उपयुक्त परिवार नियोजन मेथड के बारे में विस्तार से चर्चा कर सकते हैं. परिवार नियोजन क्लीनिकों में चित्र और चार्ट भी होते हैं जो विभिन्न प्रकार के उपलब्ध परिवार नियोजन विकल्पों की जानकारी देते हैं.

सरकार द्वारा कंडोम वेंडिंग मशीनों में कंडोम आसानी से उपलब्ध कराया गया है. इन मशीनों को अक्सर सार्वजनिक शौचालयों, मेट्रो स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर स्थापित किया गया है.

परिवार नियोजन के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा कई प्रकार के अभियान चलाए जा रहे हैं.

ऐसा ही एक  मिशन परिवार विकास है जिसका उद्देश्य है:

  1. उच्च प्रजनन (हाई फर्टिलिटी) जिलों में गर्भ निरोधकों और परिवार नियोजन सेवाओं तक पहुंच बढ़ाना
  2. परिवार नियोजन के नए तरीकों के बारे में बताना 

दो नए गर्भनिरोधक हैं:

  1. एक गैर-हार्मोनल गर्भनिरोधक गोली, ‘छाया’ (जिसे पहले ‘सहेली’ कहा जाता था)
  2. ‘अंतरा’ कार्यक्रम के तहत एक इंजेक्टेबल गर्भनिरोधक MPA

सरकार द्वारा परिवार नियोजन या फैमिली प्लानिंग  का एक और अभियान है जिसे हमदो कहा जाता है।

राष्ट्रीय परिवार नियोजन कार्यक्रम, ‘हमदो’ (/humdo.nhp.gov.in/)का उद्देश्य  है:

  1. शादीशुदा जोड़ों को उपलब्ध परिवार नियोजन के तरीकों और सेवाओं के बारे में मार्गदर्शन के साथ जानकारी प्रदान करना 
  2. सुनिश्चित करना कि हर व्यक्ति और शादीशुदा जोड़ा एक स्वस्थ और खुशहाल ज़िन्दगी जीये

एक मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा कार्यकर्ता) जो एक कम्युनिटी हेल्थ वर्कर होती है , को नवविवाहित जोड़ों की काउंसलिंग के साथ-साथ उनके घर पर गर्भ निरोधकों की होम डिलीवरी के लिए नियुक्त किया जाता है , जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि शादी के बाद बच्चे का जन्म 2 साल बाद हो और पहले बच्चे के जन्म के बाद दूसरे बच्चे के जन्म में 3 साल का अंतर हो .

इसके अलावा सरकार की एक राष्ट्रीय परिवार नियोजन क्षतिपूर्ति योजना National Family Planning Insurance Scheme (NFPIS) भी है जिसके तहत नसबंदी के दौरान लोगों की मृत्यु, नसबंदी के बाद होने वाली जटिलताओं और असफलताओं में इंश्योरेंस की जाती है.

नसबंदी स्वीकार करने वालों के लिए मुआवजा योजना – इस योजना के तहत MOHFW लाभार्थियों को नसबंदी के दौरान मजदूरी के नुकसान की भरपाई की जाती है .

हेल्थ केयर वाउचर:यह एक योजना है .इसमें आपको एक पेपर या इलेक्ट्रॉनिक वाउचर मिलता है जिससे आप किसी भी मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य कार्यकर्ता के पास ले जा के अपने लिए हेल्थ केयर सुविधा ले सकते हैं . इनका उद्देश्य परिवार नियोजन कार्यक्रमों को वित्तीय या अन्य अवरोधों को दूर करने में मदद करना है और क्लाइंट के गर्भनिरोधक विकल्पों का विस्तार करने में मदद करना है जो उनके लिए बहुत महंगा या उनकी पहुँच तक होना मुश्किल हो सकता है. वाउचर ग्राहक को अधिक गर्भनिरोधक विकल्पों तक पहुंच प्रदान करते हैं.

यह एक एसोसिएशन है जिसे फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन ( FPA) कहा जाता है. यह सेक्सुअल और रिप्रोडक्टिव हेल्थ पर ध्यान केंद्रित करते हुए लोगों तक पहुंचने में मदद करता है और आवश्यक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करता है.

सरकार द्वारा यह सुनिश्चित करने के लिए काफी प्रयास किए जाते हैं कि देश में परिवार नियोजन के बारे में हर विवाहित जोड़े को जागरूकता और साधन उपलब्ध हों. नियमित आधार पर इस तरह के प्रयासों और अभियान के साथ सरकार का लक्ष्य हजारों विवाहित जोड़ों का मार्गदर्शन करना है, ताकि उनके लिए यह विकल्प सबसे उपयुक्त हो.

Write A Comment